July 14, 2024

Benefits of Jamun इस वक्त करें जामुन का सेवन, मिलेंगे यह कमाल के फायदे

Benefits of Jamun: बारिश के मौसम ने दस्तक दे दी है और बाजारों में काली काली जामुन नजर आने लगी है। काले कलर का ये फल स्वाद में लाजवाब होने के साथ-साथ सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है।

जामुन खाने के फायदे

जामुन खाने के ये फायदे आपको हैरानी में डाल देंगे - health benefits of jamun  - AajTak

Benefits of Jamun: हमें पेट संबंधी समस्याओं से राहत दिलाने के साथ ही इम्युनिटी को बूस्ट करती है। हालांकि आपको लिमिट में इसका सेवन करना होगा।जामुन के बारे में कहा जाता है कि जामुन स्किन को हाइड्रेट रखने में मदद करता है। खास बात ये है कि जामुन का सेवन डायबिटीज रोगियों के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। जामुन को अम्लीय प्रकृति का फल माना जाता है और यह स्वाद में मीठा होता है

यह भी पढ़े Roasted Haldi Scrub धूल,धूप और प्रदूषण ने छीन ली है चेहरे की रंगत तो लगाएं रोस्टेड हल्दी का स्क्रब

आइए नीचे इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्वों और इससे मिलने वाले फायदों के बारे में जानते हैं

जामुन के पोषक तत्व

Jamun Used As Medicinecan We Eat Jamun In Empty Stomach,सेहत के लिए अृमत  समान है जामुन, मगर इस तरह खाने से फायदे की जगह हो सकता है नुकसान -  according to ayurveda this summer fruit jamun or java plum used as medicine  know when and how to eat ...

जामुन पोषक तत्वों से भरा हुआ है। इसमें कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, सोडियम, विटामिन सी और भरपूर मात्रा में विटामिन बी पाया जाता है। इसके साथ ही थियामिन, राइबोफ्लेविन, फॉलिक एसिड, नियासिन, विटामिन बी6 आदि पाए जाते हैं, जो शरीर को हेल्दी रखने में मददगार हैं।

यह भी पढ़े Green Fruits Benefits इन हरे फलों के सेवन से बीमारियां रहेंगी कोसों दूर,आज ही डाइट में करें शामिल

जामुन खाने के लाभ

जामुन खाने के फायदे Benefits of eating jamun in Hindi - RadheRadheje

इसमें भरपूर मात्रा में ग्लूकोज और फ्रुक्टोज पाया जाता है। जामुन में लगभग वे सभी जरूरी लवण पाए जाते हैं, जिनकी शरीर को आवश्यकता होती है। इसके सेवन से पेट से जुड़ी समस्याएं जैसे अपच, पेट दर्द दूर होता है।जामुन में मौजूद पोटैशियम, आयरन, कैल्शियम और विटामिन सी होता है, इसके सेवन से इम्युनिटी बूस्ट होती है और शरीर में खून की कमी नहीं होने देता।आयुर्वेद डॉक्सपर्ट डॉक्टर अबरार मुल्तानी के अनुसार, अगर आपको गठिया वाद से दर्द होता है तो आप जामुन की छाल को उबालकर इसके बचे हुए घोल का लेप जोड़ों पर लगा सकते हैं। इससे दर्द में आराम मिलता है।

जामुन की पत्तियां और इसका छाल मसूड़ों की समस्याओं को दूर करने में हेल्प करता है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट्स की मात्रा अधिक होती है, इसमें कैलोरी मात्रा कम होने से ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है और वजन घटाने में मदद करता है।इस बात का रखें ध्यानडॉक्टर अबरार मुल्तानी बताते हैं कि जामुन को कभी भी खाली पेट नहीं खाना चाहिए। क्योंकि यह वातकारी है, जिसे खाली पेट खाया गया तो पेट में अफारा और गैस की समस्या हो जाती है, जो लंबे समय तक नहीं जाती। उसी तरह जामुन को दूध के साथ भी कभी नहीं खाना चाहिए। आप इसे दोपहरा लंच के बाद खा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *