June 14, 2024

दुनिया भर की आधी आबादी हो जाएगी मेंटल डिस ऑर्डर की शिकार हावर्ड की स्टडी में चौंकाने वाला खुलासा

Alarming Mental Health Trends: द यूनिवर्सिटी ऑफ हावर्ड मेडिकल स्कूल द्वारा की गई स्टडी के मुताबिक दुनिया भर की आधी आबादी 75 साल की उम्र तक मेंटल डिसऑर्डर का शिकार हो जाएगी.

यह भी पढ़े BPSC 69th Prelims 2023 बीपीएससी 69वीं प्रीलिम्स के लिए आवेदन की आखिरी तारीख नजदीक,जल्द ऐसे करें अप्लाई

दुनिया भर की आधी आबादी हो जाएगी मेंटल डिस ऑर्डर की शिकार

दुनियाभर की आबादी का आधा हिस्सा होगा मेंटल डिसऑर्डर से पीड़ित, शोध में हुआ  खुलासा | half of world will get mental health disorder by 75 study reveals  in hindi

Alarming Mental Health Trends: शरीर से फिट रहने के साथ-साथ दिमाग से भी फिट रहना काफी जरूरी है.मानसिक स्वास्थ्य को कभी हल्के में नहीं लेना चाहिए.कई लोग तो मानसिक समस्याओं को बीमारी ही नहीं मानते हैं.लेकिन आपको बता दें कि आधी आबादी मानसिक समस्या से पीड़ित हैं. वहीं इसको लेकर अब एक बहुत ही चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. स्टडी के मुताबिक दुनिया भर की आधी आबादी 75 साल की उम्र तक मेंटल डिसऑर्डर का शिकार हो जाएगी.आइए जानते हैं इस बारे में विस्तार से.

क्या कहती है स्टडी

Should you tell your boss about your mental illness? Here's what to weigh up

द यूनिवर्सिटी ऑफ हावर्ड मेडिकल स्कूल द्वारा की गई स्टडी में 1 लाख 50 हजार लोगों को शामिल किया गया है. इसमें 29 देशों के लोगों ने साल 2021 और 2022 में हिस्सा लिया. ये स्टडी लानसेट साइकेट्रिक में प्रकाशित की गई.स्टडी में शोधकर्ताओं ने पाया कि दुनिया भर की आधी आबादी 75 साल की उम्र तक मेंटल डिसऑर्डर का शिकार हो जाएगी. बता दें कि रिसर्च में शामिल होने वाले पुरुषों और महिलाओं में तीन मेंटल डिसऑर्डर को सामान्य बताया.उनके मुताबिक डिप्रेशन और एंग्जाइटी लोगों में काफी सामान्य है. पुरुषों में अल्कोहल एब्यूज्ड, डिप्रेशन और फोबिया जैसी समस्याएं थी.वहीं महिलाओं में डिप्रेशन post-traumatic स्ट्रेस के साथ-साथ फोबिया जैसी समस्याएं थी.

मेंटल हेल्थ खराब होने के लक्षण

मेंटल हेल्थ खराब होने का सबसे बड़ा संकेत यह है कि इसमें व्यक्ति सोशल एक्टिविटी छोड़ देता है और किसी भी तरह का कनेक्शन नहीं रखता है.व्यक्ति जरूरत से ज्यादा चिंता करने लगता है. चिंता इस कदर बढ़ जाती है कि हर छोटी-छोटी बातों पर डर महसूस होने लगता है.खुशी महसूस होना या खुशी बिल्कुल ना महसूस होना भी खराब मानसिक स्वास्थ्य के लक्षण हैं.इसके अलावा काम में भी रूचि नहीं होती.नींद की आदतों में भी बदलाव हो जाता है. जैसे रात को नींद ना आना, दिन में नींद आना, रात को बार-बार जागना या फिर सुबह देर तक सोना. ये सब खराब मानसिक स्वास्थ्य का ही संकेत हैं.

यह भी पढ़े Eye Flu एम्स के Eye Specialist ने दूर किया भ्रम, आईफ्लू वाले की आंख देखने से नहीं फैलता ये वायरस

मेंटल हेल्थ को सही कैसे रखें

Mental Health at Work Archives - MedCircle

मेंटल हेल्थ सही बनाए रखने के लिए प्रकृति के साथ कुछ वक्त बिताना चाहिए.7 से 8 घंटे की प्रॉपर नींद लेना भी जरूरी है संतुलित आहार खाने से आपके मूड और एनर्जी लेवल में सुधार हो सकता है .स्मोकिंग शराब और भी तरह के नशीले पदार्थों से दूर ही रहें.हर दिन फिजिकल एक्टिविटी करें, एक्सरसाइज करें इससे भी मेंटल हेल्थ में सुधार होता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *