June 16, 2024

आराध्या के संघर्ष की कहानी,32 लाख का पैकेज ठुकराते ही Google ने दिया बहुत ही अच्छा ऑफर

आराध्या के संघर्ष की कहानी

आराध्या के संघर्ष की कहानी

उत्तर प्रदेश के संतकबीरनगर जिला स्थित गोठवा गांव की आराध्या त्रिपाठी ने रिकॉर्ड तोड़ते हुए गूगल से 56 लाख रुपये की नौकरी का ऑफर हासिल किया है,आराध्या के इस मुकाम को लेकर अब चारो तरफ उनकी चर्चा हो रही है।

यह भी पढ़े CBSE बोर्ड के 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए खुशखबरी,परीक्षा 2024 फॉर्म जमा करने की डेट बढ़ी

आराध्या के संघर्ष की कहानी

Google ने दिया 56 लाख का ऑफर, पहले ठूकरा चुकी है 32 लाख की नौकरी, UP की आराध्या  ने किया कमाल - Punjab Kesari

Google gave Aaradhya tripathi job offer of 56 lakh: उत्तर प्रदेश को प्रतिभाओं वाला राज्य कहा जाता है। जिसके चलते यहां के युवा अकसर कुछ ऐसे कारनामे करके दिखाते हैं, जो अन्य लोगों के लिए मिसाल तो बनते ही हैं, साथ ही प्रदेश और देश में अपनी एक अलग पहचान भी बनाते हैं। ऐसा ही एक कारनामा करके दिखाया है यूपी की बेटी आराध्या त्रिपाठी ने। उत्तर प्रदेश के संतकबीरनगर जिला स्थित गोठवा गांव की युवा प्रतिभा आराध्या त्रिपाठी ने रिकॉर्ड तोड़ते हुए गूगल से 56 लाख रुपये की नौकरी का ऑफर हासिल किया है, आराध्या के इस मुकाम को लेकर अब चारो तरफ उनकी चर्चा हो रही है।

न IIT, न IIM या NIT… फिर भी गूगल से आया ऑफर

यूपी की आराध्या के इस मुकाम को लेकर हो रही चर्चा के पीछे एक वजह ये भी है कि वो आईआईटी, आईआईएम, एनआईटी से नहीं हैं। यहां तक कि आईआईआईटी से भी नहीं है। जबकि भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) और भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) भारत में सबसे अधिक वेतन पाने वाले स्नातकों को जन्म देने वाले संस्थान हैं। आपको बताते चलें कि यूपी के संतकबीरनगर जिला स्थित मगहर क्षेत्र के गोठवा गांव की रहने वाली आराध्या त्रिपाठी ने मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (MMMUT) से अपनी शिक्षा प्राप्त की है। आपको बता दें कि आराध्या को Google से 52 लाख रुपये का एक बड़ा सलाना पैकेज मिला है, जो इससे पहले MMMUT के एक पूर्व छात्र को मिलने वाला अब तक का सबसे बड़ा पैकेज है।

कंप्यूटर इंजीनियरिंग में बीटेक करने के लिए एमएमएमयूटी में लिया था दाखिला

आराध्या को गूगल में मिला 52 लाख का पैकेज, परिवार में खुशी की लहर, कंप्यूटर  साइंस में बीटेक की हैं छात्रा | Aaradhya got a package of 52 lakhs in Google,  a

बता दें कि इतनी कम उम्र में अपनी प्रतिभा से अलग पहचाना बनाने वाली आराध्या त्रिपाठी ने सेंट जोसेफ स्कूल में अपनी माध्यमिक शिक्षा पूरी करने के बाद कंप्यूटर इंजीनियरिंग में बीटेक करने के लिए MMMUT में एडमिशन लिया। तब से आराध्या ने न केवल विश्वविद्यालय में बल्कि पूरे तकनीकी उद्योग में अपनी पहचान बनाई और Google में एक सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट इंजीनियर के तौर पर एक बड़े पद पद पर अपनी भूमिका निभाई है। आराध्या के पिता एक वकील हैं और मां गृहिणी हैं।

32 लाख का ठुकराया ऑफर

आपको बता दें कि स्केलर कंपनी ने उनकी इंटर्नशिप पूरी होने के बाद उन्हें 32 लाख का ऑफर दिया था, को कि एक नजरिए से बहुत अच्छा ऑफर था। लेकिन आराध्या ने इस बड़े पैकेज वाले ऑफर को ठुकराते हुए Google से मिले 52 लाख के ऑफर को स्वीकार कर लिया। आराध्या ने कंप्टीशन के माहौल में काम करते हुए स्केलेबल उत्पादों और लाइव प्रोडक्शन ट्रैफिक को संभालने में बड़ा एक्सपीरियंस हासिल किया। उन्होंने लिंकडिन पर अपने बारे में बताते हुए लिखा है कि उनके पास React. JS, React Redux, NextJS, टाइपस्क्रिप्ट, NODEJS, MongoDb, ExpressJS और SCSS जैसी कई तकनीकी स्टैक के साथ अच्छा एक्सपीरियंस है।

यह भी पढ़े IGNOU Registration 2023 इग्नू रजिस्ट्रेशन 2023 की शुरूआत,ऑफिशियल वेबसाइट पर अंतिम तारीख

डेटा स्ट्रक्चर्स और एल्गोरिदम में रुचि रखती हैं आराध्या

IIT, IIM, NIT, IIIT काहीच नाही तरीही रचला इतिहास! विक्रमी पगार, कुणालाही न  मिळालेलं पॅकेज, भेटा आराध्या त्रिपाठीला - Marathi News | Aradhya Tripathi  created history by ...

आराध्या का कहना है कि उन्हें डेटा स्ट्रक्चर्स और एल्गोरिदम में गहरी रुचि है और उन्होंने कई अलग अलग कोडिंग प्लेटफार्मों पर लगभग 1000 से अधिक क्विस्चन सॉल्व किए हैं और उन पर उनकी अच्छी रेटिंग भी है। आराध्या त्रिपाठी की कहानी लोगों के लिए अब एक मिसाल और प्रेरणा के रूप में काम कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *