June 14, 2024

बुखार के साथ-साथ उल्टी भी हो रही है तो नॉर्मल बुखार नहीं है ऐसा इस खतरनाक बीमारी में होता है

बचाव के साथ साथ डेंगू के लक्षणों के लिए भी जानकारी होनी जरूरी है ताकि समय रहते इस जानलेवा बीमारी का इलाज करके मरीज की जान बचाई जा सके. चलिए जानते हैं कि डेंगू के लक्षण क्या क्या है.

यह भी पढ़े क्या सीढ़ियां चढ़ते वक्त हांफने लगते हैं आप तो हो सकता है इन 5 में से 1 बीमारी ने बना लिया है शिकार

बुखार के साथ-साथ उल्टी भी हो रही है तो नॉर्मल बुखार नहीं

बुखार: लक्षण, उपचार, प्रकार और कारण

Dengue Dangerous Symptom: मानसून आते ही देश भर में खतरनाक और जानलेवा डेंगू के मामले बढ़ने लगते हैं. मानसून के मौसम में हर साल डेंगू मच्छर के प्रकोप के चलते होने वाली मौतों में इजाफा होने लगता है. ऐसे में डॉक्टर सलाह देते हैं कि बचाव के साथ साथ डेंगू के लक्षणों के लिए भी जानकारी होनी जरूरी है ताकि समय रहते इस जानलेवा बीमारी का इलाज करके मरीज की जान बचाई जा सके.चलिए जानते हैं कि डेंगू के लक्षण क्या क्या है और इनकी पहचान कैसे करें.

डेंगू के ये लक्षण ना करें अनदेखा

Fever Cure: बुखार बढ़ने पर तुरंत आजमाएं ये घरेलू नुस्खे, जल्द मिल सकता है  आराम -

हेल्थ एक्सपर्ट कहते हैं कि डेंगू के शुरूआती लक्षण किसी आम फ्लू और बुखार की तरह होते हैं इसलिए लोग इसे लेकर लापरवाही कर बैठते हैं. डेंगू होने पर सबसे पहले मरीज को हल्का हल्का बुखार रहने लगता है. ऐसे में मरीज का बुखार लगातार रहता है और धीरे धीरे बढ़ता जाता है. बुखार के साथ अगर उल्टी और दस्त भी हो गए हैं तो ये डेंगू का लक्षण है.

इससे संकेत मिलता है कि डेंगू का खतरनाक स्ट्रेन शरीर में प्रवेश कर चुका है. ऐसे में मरीज को उल्टी दस्त के साथ साथ उल्टी में खून भी आने लगता है. बुखार 100 डिग्री से ज्यादा रहता है. इस दौरान मरीज की मांसपेशियों में बहुत ज्यादा दर्द होता है. मरीज को बुखार के साथ साथ सिर में दर्द होना भी डेंगू का लक्षण है और ऐसे में मरीज को तुरंत जांच के लिए ले जाना चाहिए.

यह भी पढ़े Govt Jobs 12वीं और ग्रेजुएट पास के लिए स्टेनोग्राफर बनने का निकला शानदार मौका,मिलेगी 40,000 तक सैलरी,चेक करें डिटेल्स

इस तरह से कर सकते हैं डेंगू से बचाव

Viral Fever - Types, Causes, Treatment, Diagnosis & Prevention

डेंगू का बुखार डेंगू के मच्छर के काटने की वजह से होता है. इसलिए जरूरी है कि डेंगू के मच्छर को पनपने से रोका जाए. अपने घर के आस पास पानी ना एकत्र होने दें.बच्चों को पूरी बाजू के कपड़े पहना कर ही बाहर भेजें. घर में लगाए पौधों के आस पास पानी औऱ गंदगी ना एकत्र होने दें. सोते समय रात को मच्छरों से बचाव के तरीके यूज करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *