May 30, 2024

जानें सेहत के लिए खाना खाने के बाद टहलना,कितना फायदेमंद होते है

जानें सेहत के लिए खाना खाने के बाद टहलना,

जानें सेहत के लिए खाना खाने के बाद टहलना,

जानें सेहत के लिए खाना खाने के बाद टहलना,कितना फायदेमंद होते है अगर आप खाना खाने के बाद बैठे रहते हैं या सो जाते हैं तो आप अपने शरीर के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।काफी लोग खाना खाने के बाद टहलने की सलाह देते हैं।इससे खाना पचने में मदद मिलती है।खाना खाने के बाद 10 मिनट टहलने के ढेर सारे फायदे हैं।इससे वजन कम होने के साथ-साथ ब्लड शुगर लेवल भी कंट्रोल में रहता है।

जानें सेहत के लिए खाना खाने के बाद टहलना,कितना फायदेमंद होते है

start walking daily for 20 minutes have countless benefits for health nsmp  | रोजाना 20 मिनट Walking से शरीर को मिलेंगे अनगिनत फायदे, आज से करें Start  | Hindi News, Health

टहलने के फायदे

खाना खाने के बाद टहलना जरूरी है।यह टहलना चाहे 10 मिनट का हो या 15 मिनट का।अगर आप खाना खाने के बाद टहलते नहीं हैं तो आपको दिल से लेकर दिमाग तक की बीमारी हो सकती है।यही नहीं,मोटापा बढ़ सकता है और शुगर भी हो सकती है।इसलिए दुनियाभर के एक्सपर्ट का मानना है कि खाने खाने के बाद 10 से 15 मिनट टहलना जरूरी है।खाना खाने के बाद अगर 10 मिनट भी टहल लिया जाए तो इससे दिल और दिमाग दोनों दुरुस्त रहते हैं।

यह भी पढ़े New printed Jhumka:स्टाइलिश दिखने के लिए पहनें इस तरह का न्यू डिजाइनो वाला झुमका,देखें लेटेस्ट डिज़ाइन

तुरंत न निकल जाएं टहलने

आपने चाहे लंच किया हो या डिनर, खाना खाने के तुरंत बाद टहलना नहीं चाहिए।अगर खाना खाने के तुरंत बाद टहलने जाएंगे तो इससे पेट में दर्द हो सकता है। इसलिए बेहतर होगा कि खाना खाने के करीब 1 घंटे बाद ही टहलने निकलें।खाना खाने के तुरंत बाद एक ही जगह पर बैठे भी न रहें। अगर आप डेस्क वर्क करते हैं जिसमें लगातार बैठना होता है तो ऐसे में बेहतर है कि खाना खाने के बाद 1 घंटे तक थोड़ी-थोड़ी देर के लिए कुर्सी से उठकर 8-10 कदम चल लें। इससे खाना खाने के बाद पेट में भारीपन महसूस नहीं होगा।

टहलने का तरीका भी जानना जरूरी

जानें सेहत के लिए खाना खाने के बाद टहलना,कितना फायदेमंद होते है

रोज सिर्फ 30 मिनट चलने के लाभ - Benefits Of Walking Just 30 Minutes Daily  In Hindi

खाना खाने के बाद टहलने का तरीका भी जानना जरूरी है।खाना खाने के बाद कभी दौड़ना नहीं चाहिए।टहलते समय स्पीड ब्रिक्स वॉक के मुकाबले कुछ कम होनी चाहिए। ब्रिक्स वॉक में हम तेज-तेज कदमों से चलते हैं।स्पीड इतनी रहती है कि सांस न फूले और बातें भी आराम से कर सकें।खाना खाने के बाद टहलने की स्पीड ब्रिक्स वॉक से कुछ कम होनी चाहिए, लेकिन इतनी भी कम नहीं कि सिर्फ चलने जैसा लगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *