June 14, 2024

नवरात्री के व्रत में साबूदाना खा-खा कर घूम गया दिमाग तो एक बार जरूर ट्रे करे सिंघाड़ा कड़ी,जाने प्रोसेस

सिंघाड़ा कड़ी

नवरात्री के व्रत में साबूदाना खा-खा कर घूम गया दिमाग तो एक बार जरूर ट्रे करे सिंघाड़ा कड़ी,जाने प्रोसेस,नवरात्रि के दौरान कई लोग नौ दिनों तक सिर्फ फलाहार ही करते हैं. ऐसे में इतने लंबे वक्त तक एक जैसा फलाहार काफी उबाऊ हो सकता है. ऐसे में अलग-अलग फलाहार को ट्राई कर मुंह का स्वाद बनाए रखा जा सकता है,आपने भी अगर इस चैत्र नवरात्रि के दौरान उपवास रखा है तो सिंघाड़ा आटे से बनी कढ़ी को तैयार कर सकते हैं. सिंघाड़ा कढ़ी बनाने की रेसिपी काफी सरल है और इसे बनाने में ज्यादा वक्त भी नहीं लगता है. आइए जानते हैं सिंघाड़ा कढ़ी बनाने की रेसिपी-

नवरात्री के व्रत में साबूदाना खा-खा कर घूम गया दिमाग तो एक बार जरूर ट्रे करे सिंघाड़ा कड़ी,जाने प्रोसेस

Read Also: 27 हजार के भारी भरकम डिस्काउंट के साथ iphone प्रेमियों के लिए नई सौगात,देखे Flipkart ऑफर

सिंघाड़ा कढ़ी बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

सिंघाड़ा आटा – 1 कप
आलू उबले हुए – 2
जीरा – 3/4 टी स्पून
हरी मिर्च – 2
काली मिर्च पाउडर – 1/2 टी स्पून
धनिया पत्ती – 2 टेबलस्पून
नींबू – 1/2
देसी घी – 2 टेबलस्पून
सेंधा नमक – स्वादानुसार

नवरात्री के व्रत में साबूदाना खा-खा कर घूम गया दिमाग तो एक बार जरूर ट्रे करे सिंघाड़ा कड़ी,जाने प्रोसेस

सिंघाड़ा कढ़ी बनाने की आसान विधि

व्रत के लिए सिंघाड़ा आटे की कढ़ी बनाना चाहते हैं तो सबसे पहले आलू को उबाल लें और फिर उसके छिलके उतारकर मोटे-मोटे टुकड़े काट लें. इसके बाद हरी मिर्च और हरा धनिया भी बारीक काट लें. अब एक बर्तन में सिंघाड़े का आटा डालं और उसमें लगभग 1 कप पानी डालकर घोल तैयार कर लें. एक कड़ाही में 2 टेबलस्पून देसी घी डालें और उसे मीडियम आंच पर गर्म करने के लिए रख दें. जब घी पिघल जाए तो उसमें जीरा और कटी हरी मिर्च डालकर भूनें!

कुछ सेकंड बाद जब जीरा चटकने लगे तो उबले आलू के टुकड़े डालकर चम्मच की मदद से मिक्स करें और उन्हें फ्राई करें. आलू को 2 मिनट तक भूनने के बाद सिंघाड़े का तैयार घोल कड़ाही में डालें और चम्मच से अच्छे से मिलाएं. अब कढ़ी को 2-3 मिनट तक पकने दें. इसके बाद कढ़ी में काली मिर्च पाउडर और स्वादानुसार सेंधा नमक डालकर मिक्स करें और कड़ाही को ढ़ककर कढ़ी को पकने दें!

सिंघाड़ा कढ़ी को लगभग 5 मिनट तक ढककर पकाने के बाद उसमें बारीक कटा हरा धनिया और नींबू का रस निचोड़कर चम्मच से चलाएं और 1 मिनट तक और पकाएं. इसके बाद गैस बंद कर दें. स्वाद और पोषण से भरपूर सिंघाड़ा आटे की कढ़ी बनकर तैयार हो चुकी है. इसे राजगीरा की पूरी के साथ सर्व किया जा सकता है!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *