July 18, 2024

Tata Punch EV Safety : इलेक्ट्रिक कारों में सबसे सेफ है Tata की ये EV

Tata Punch EV Safety : इलेक्ट्रिक कारों में सबसे सेफ है Tata की ये EV,टाटा पंच ईवी अब भारत की सबसे सुरक्षित इलेक्ट्रिक कार बन गई है। इसे भारत न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम (BNCAP या भारत NCAP) से क्रैश टेस्ट में 5-स्टार सेफ्टी रेटिंग मिली है। क्रैश टेस्ट में इस कार ने एडल्ट सेफ्टी के लिए 32 में से 31.46 और चाइल्ड सेफ्टी के लिए 49 में से 45 अंक हासिल किए हैं।

खास बात यह है कि यह कार 4 मीटर से कम रेंज में भारत की सबसे सस्ती और छोटी इलेक्ट्रिक SUV है, जिसे कंपनी ने इस साल जनवरी में लॉन्च किया था। वहीं, टाटा नेक्सॉन को भी क्रैश टेस्ट में 5-स्टार सेफ्टी रेटिंग मिली है। इस कार ने एडल्ट सेफ्टी के लिए 32 में से 29.86 और चाइल्ड सेफ्टी के लिए 49 में से 44.54 अंक प्राप्त किए हैं।
भारत NCAP ने किया क्रैश टेस्ट

भारत NCAP ने हाल ही में दोनों कारों का क्रैश टेस्ट किया, जिसकी रिपोर्ट आज (गुरुवार, 13 जून) जारी की गई। यह पहली बार है जब भारतीय एजेंसी ने इलेक्ट्रिक वाहन का क्रैश टेस्ट किया है। इस प्रकार, टाटा पंच क्रैश टेस्ट में भाग लेने वाली देश की पहली इलेक्ट्रिक कार बन गई है।
पंच ईवी को मिले सबसे ज्यादा अंक 

इसके अलावा, पंच ईवी टाटा की सबसे ज्यादा अंक पाने वाली पहली कार भी बनी है, जिसने हैरियर और सफारी से भी ज्यादा स्कोर किया है। इसे एडल्ट प्रोटेक्शन और चाइल्ड प्रोटेक्शन श्रेणियों में 5-स्टार रेटिंग मिली है, जो सभी वैरिएंट्स पर लागू होती है।

केंद्रीय सड़क परिवहन राज्यमंत्री नितिन गडकरी ने 22 अगस्त 2023 को दिल्ली में हुए एक इवेंट में BNCAP को लॉन्च किया था। इसके बाद, 18 सितंबर 2023 को पुणे के चाकन स्थित केंद्रीय सड़क परिवहन संस्थान (CIRT) में कमांड और कंट्रोल सेंटर का उद्घाटन किया गया था।
पंच ईवी को 16 में से 15.71 अंक

फ्रंटल इंपैक्ट टेस्ट – 64 किमी प्रति घंटे की स्पीड पर हुए फ्रंटल इंपैक्ट टेस्ट में पंच ईवी को 16 में से 15.71 अंक मिले। इसमें ड्राइवर और पैसेंजर के सिर और गर्दन की सुरक्षा को सुरक्षित पाया गया। ड्राइवर की छाती की सुरक्षा अच्छी रही, जबकि पैसेंजर की छाती की सुरक्षा पर्याप्त पाई गई। टेस्ट में ड्राइवर और पैसेंजर की जांघों को अच्छी सुरक्षा मिली, पैसेंजर की टांगों की हड्डियों की सुरक्षा अच्छी रही और ड्राइवर की टांगों की हड्डियों की सुरक्षा पर्याप्त पाई गई। ड्राइवर के पैरों की सुरक्षा भी अच्छी रही।

साइड इंपैक्ट टेस्ट – 50 किमी प्रति घंटे की स्पीड पर किए गए साइड इंपैक्ट टेस्ट में ईवी को 16 में से 15.74 अंक मिले। इसमें ड्राइवर के सिर, कमर और कूल्हों की सुरक्षा को काफी सुरक्षित पाया गया, जबकि ड्राइवर की छाती की सुरक्षा को पर्याप्त माना गया।

साइड पोल टेस्ट – इस टेस्ट में ड्राइवर के सिर, छाती, कमर और कूल्हों की सुरक्षा को अच्छा पाया गया। इन तीनों परीक्षणों के प्रदर्शन के आधार पर पंच ईवी को एडल्ट प्रोटेक्शन कैटेगरी में 32 में से 31.46 अंक और 5-स्टार सुरक्षा रेटिंग प्राप्त हुई।

इस परीक्षण में 18 महीने और 3 साल के बच्चे की डमी को चाइल्ड रेस्ट्रेंट सिस्टम पर पीछे की ओर रखा गया। पंच ईवी ने चाइल्ड प्रोटेक्शन श्रेणी में 49 में से 45 अंक प्राप्त किए, जो इस श्रेणी में 5-स्टार क्रैश टेस्ट रेटिंग पाने के लिए पर्याप्त हैं। हालांकि, सुरक्षा के स्तरों की विस्तृत जानकारी साझा नहीं की गई है।
नेक्सॉन ईवी को 16 में से 14.26 अंक 

फ्रंटल इंपैक्ट – 64 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पर किए गए फ्रंटल इंपैक्ट टेस्ट में, फ्रंट सीट पर बैठे एडल्ट पैसेंजर की सुरक्षा के लिए नेक्सॉन ईवी को 16 में से 14.26 अंक मिले। ड्राइवर और फ्रंट पैसेंजर के सिर और गर्दन की सुरक्षा को अच्छा बताया गया है। हालांकि, ड्राइवर की छाती की सुरक्षा को संतोषजनक और पैसेंजर की छाती की सुरक्षा को अच्छा बताया गया। ड्राइवर और पैसेंजर की जांघ और पेल्विस की सुरक्षा को भी अच्छा पाया गया।

साइड इंपैक्ट टेस्ट – 50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पर किए गए साइड इंपैक्ट टेस्ट में, ड्राइवर के सिर, छाती, पेट और कूल्हों की सुरक्षा को अच्छा स्कोर मिला। वहीं, पैसेंजर की छाती की सुरक्षा को पर्याप्त बताया गया।

यह भी पढ़िए: iphone का डब्बा डोल कर देंगा OnePlus का स्मार्टफोन,ताबड़तोड़ फीचर्स के साथ मिलेंगा झक्कास कैमरा क्वालिटी,देखें कीमत

साइड पोल टेस्ट – साइड पोल टेस्ट का परिणाम साइड इंपैक्ट टेस्ट के समान था, लेकिन इसमें छाती की सुरक्षा को भी अच्छा बताया गया। इन तीनों परीक्षणों के प्रदर्शन के आधार पर नेक्सॉन ईवी को एडल्ट प्रोटेक्शन कैटेगरी में 32 में से 29.86 अंक मिले। यह स्कोर 5-स्टार रेटिंग के लिए पर्याप्त था, लेकिन BNCAP द्वारा टाटा कारों पर किए गए एडल्ट पैसेंजर प्रोटेक्शन के लिए सबसे कम था। BNCAP ने नेक्सॉन इलेक्ट्रिक के टॉप मॉडल एम्पावर्ड+ लॉन्ग रेंज का परीक्षण किया है, लेकिन इसके परिणाम सभी वैरिएंट्स पर लागू होंगे।

चाइल्ड प्रोटेक्शन श्रेणी में भी इस कार ने 5-स्टार क्रैश टेस्ट रेटिंग हासिल की है। क्रैश टेस्ट में इसे 49 में से 44.95 अंक मिले। टाटा नेक्सॉन ईवी में भी, पंच ईवी की तरह, रियर फेसिंग चाइल्ड सीट लगाई गई थी। हालांकि, इसमें भी सुरक्षा के स्तरों की विस्तृत जानकारी साझा नहीं की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *