Sunday, February 25, 2024
HomeeducationCoaching Classes Closed: MP में कोचिंग क्लास के बदले नियम, 16 साल...

Coaching Classes Closed: MP में कोचिंग क्लास के बदले नियम, 16 साल से काम उम्र के बच्चे नहीं जा पाएंगे कोचिंग जानिए

Coaching Classes Closed: आज के समय में हर इंसान अपने बच्चे की कोचिंग लगना पसंद करता है मगर अब कोचिंग सेंटर्स 16 साल से कम उम्र के बच्चों को दाखिला नहीं दे पाएंगे। इतना ही नहीं शिक्षा मंत्रालय ने कोचिंग सेंटर्स पर भ्रामक वादे करने और अच्छे नंबरों की गारंटी देने पर भी पाबंदी लगा दी है। ऐसा क्यों किया गया क्या है कारन जानिए :-

Coaching Classes Closed: MP में कोचिंग क्लास के बदले नियम, 16 साल से काम उम्र के बच्चे नहीं जा पाएंगे कोचिंग जानिए

Also Read :- युवाओं के लिए सुनहरा मौकाअसिस्टेंट लोको पायलट पदों पर निकलीं बंपर भर्तियां,10वीं-आईटीआई पास करें आवदेन

Coaching Classes Closed: केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने देश में चल रहे अलग-अलग कोचिंग सेंटर्स के लिए नई गाइडलाइंस जारी की हैं। नई गाइडलाइंस में बताया गया है कि कोचिंग सेंटर्स 16 वर्ष से कम उम्र के स्टूडेंट्स को एडमिट नहीं कर सकते हैं। अब स्टूडेंट्स अपने सेकेंडरी स्कूल एग्जाम (12वीं) पास करने के बाद ही कोचिंग में एनरोल कर सकेंगे। मंत्रालय ने कोचिंग सेंटर्स पर भ्रामक वादे करने और अच्छे नंबरों की गारंटी देने पर भी पाबंदी लगा दी है।

 ग्वालियर के कोचिंग संचालक एमपी सिंह ने कहा कि प्राइवेट कोंचिंग सेंटर्स की मनमानी पर अब केंद्र सरकार ने लगाम कसने की तैयारी कर ली है। इन नई गाइडलाइंस के अनुसार अब कोई भी कहीं भी और कभी भी प्राइवेट कोचिंग सेंटर नहीं खोल पाएगा। इसके लिए सबसे पहले उसे रजिस्ट्रेशन कराना होगा।

यही नहीं अब कोचिंग सेंटर में 16 साल से कम उम्र के बच्चों को पढ़ाई के लिए नामांकन नहीं होगा. कोचिंग सेंटर किसी छात्र से मनमानी फीस भी नहीं वसूल सकेंगे. केंद्र ने ये गाइलाइन देश भर में NEET या JEE की तैयारी कर रहे छात्रों के बढ़ते सुसाइड मामलों और देश में बेलगाम कोचिंग सेंटर्स की मनमानी को लेकर दिया है। 

उल्लंघन करने पे क्या होंगा जुर्माना :-

गाइडलाइन के अनुसार, आईआईटी जेईई, एमबीबीएस, नीट जैसे प्रोफेशनल कोर्स के लिए कोचिंग सेंटरों के पास फायर और भवन सुरक्षा संबंधी एनओसी होनी चाहिए।

Coaching Classes Closed: MP में कोचिंग क्लास के बदले नियम, 16 साल से काम उम्र के बच्चे नहीं जा पाएंगे कोचिंग जानिए

Also Read :- Republic Day Speech 26 जनवरी के प्रोग्राम में ऐसे दे भाषण,सब देखते ही रह जाएंगे,बजेंगी खूब तालियां

परीक्षा और सफलता के दबाव को लेकर छात्रों की परेशानी दूर करने के लिए उन्हें मनोवैज्ञानिक और मानसिक स्वास्थ्य संबंधी सहायता भी उपलब्ध कराई जाए. कोचिंग सेंटर्स को गाइडलाइन के अनुरूप रजिस्ट्रेशन न कराने और नियम और शर्तों के उल्लंघन पर भारी जुर्माना देना होगा। 

कोचिंग सेंटर पहले उल्लंघन के लिए 25 हजार, दूसरी बार एक लाख और तीसरी बार अपराध के लिए रजिस्ट्रेशन कैंसल करने के साथ भारी जुर्माना के लिए तैयार रहना होगा। गाइडलाइन के मुताबिक, कोर्स की अवधि के दौरान फीस नहीं बढ़ाई जा सकेगी। किसी छात्र ने पूरा भुगतान करने के बावजूद कोर्स को बीच में छोड़ने का आवेदन किया है तो पाठ्यक्रम की शेष अवधि का पैसा वापस करना होगा। रिफंड में हॉस्टल और मेस फीस भी शामिल होगी। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments