July 25, 2024

Diwali पर IT कर्मचारियों के लिए बढ़ी खुशखबरी,1 नवंबर से बढ़ेंगी ज्यादा सैलरी

Diwali पर IT कर्मचारियों के लिए बढ़ी खुशखबरी,

Diwali पर IT कर्मचारियों के लिए बढ़ी खुशखबरी,

Infosys Salary Hike:Diwali पर IT कर्मचारियों के लिए बढ़ी खुशखबरी,भारत में इस समय फेस्टिवल चल रहा है और IT कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को झूमने का मौका दे दिया है। दरअसल इंफोसिस (infosys) जो कि भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी है,उन्होंने अपने कर्मचारियों की सैलरी में इजाफा करने का ऐलान कर दिया है। यानी 1 नवंबर से कंपनी

यह भी पढ़े कर्मचारियों को महाष्टमी पर मिला बड़ा तोहफा,डीए जारी करने के शासनादेश जारी

1 नवंबर से बढ़ेंगी ज्यादा सैलरी

Diwali पर IT कर्मचारियों के मजे ही मजे, 1 नवंबर से मिलेगी ज्यादा सैलरी!

Infosys Salary Hike: भारत में इस समय फेस्टिवल चल रहा है और IT कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को झूमने का मौका दे दिया है। दरअसल इंफोसिस (infosys) जो कि भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी है, उन्होंने अपने कर्मचारियों की सैलरी में इजाफा करने का ऐलान कर दिया है। यानी 1 नवंबर से कंपनी के कर्मचारियों की सैलरी बढ़कर आएगी। इसके लिए कंपनी के एचआर हेड ऑफिसर शाजी मैथ्यू ने मीटिंग के दौरान ये खबर बताई। इससे पहले रिपोर्ट ये भी हैं कि टीसीएस के साथ HCL भी अपने एंप्लॉई को तोहफा दे सकती है।

इस साल नहीं हुआ था अप्रेजल

salary-will-come-in-the-account-till-october-20-order-issued

जैसा आप जानते हैं कि आईटी सेक्टर में अप्रैल में अप्रेजल होता है। जिससे एंप्लॉई की सैलरी जुलाई में बढ़कर आती है। लेकिन इस साल 2023 में infosys कंपनी अप्रेजल नहीं कर पाई थीं, पर अब जब बाजार की स्थिति सुधर रही है तो दिवाली पर कंपनियों को खास मौका मिला है। हालांकि अभी TCS और HCL की तरफ से आधिकारिक ऐलान नहीं किया गया है।

यह भी पढ़े नए लुक में लॉन्च हुई Honda CB 300R धांसू फीचर्स और जबरदस्त माइलेज,के साथ देखें कीमत

इंफोसिस का बढ़ा नेट प्रॉफिट

DA: There will be a huge increase in the salary and pension of employees  before Diwali! Government can take this decision| business News in Hindi |  DA: दीपावली से पहले कर्मचारियों की

कंपनी की तरफ से बताया गया है कि नेट प्रॉफिट में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी हुई है। जिससे अब सभी एम्पलाई के लिए अप्रेजल का फैसला लिया गया है। इससे पहले बाजार में डिमांड कम होने की वजह से कंपनी के मार्जिन और प्रॉफिट कहीं ना कहीं डिस्टर्ब हुए थे, इसी वजह से यह फैसला लेने में देरी हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *