May 29, 2024

किसानो को घर से बिज़नेस कर पैसा कमाने का सरकार दे रही है सुनहरा मौका.

जानें, कौनसा है यह बिजनेस और इससे कितनी हो सकती है कमाई

सरकार स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए कई तरह के प्रयास कर रही है। ताकि देश में बेरोजगारी की समस्या का बहुत हद तक समाधान हो सके। सरकार लोगों को रोजगार देने के लिए स्वरोजगार के साधन विकसित कर रही है। इसी कदम में राज्य सरकार लोगों के लिए एक शानदार योजना ले कर आई है। इस योजना में लोगों को मुफ्त में दोना पत्तल बनाने वाली मशीन दे रही है। सरकार का मानना है कि इस कदम से लोगों को रोजगार मिलेगा और छोटे उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा। इस योजना का लाभ देने के लिए सरकार ने आवेदन लेना शुरू कर दिया है।

क्या है इस योजना का लाभ

इस योजना के तहत लोगों को मुफ्त दोना पत्तल बनाने वाली मशीन Double Plate Forming Machine दी जाएगी जिससे स्वरोजगार को बढ़ावा मिल सके। उत्तरप्रदेश सरकार के इस कदम से प्रदेश के हजारों बेरोजगार लोगों को लाभ मिलेगा। बड़ी संख्या में किसान भी इस लाभ को उठा पाएंगे। ग्रामीण इलाकों में किसान और मजदूर अक्सर रोजगार के साधन न होने की वजह से मुख्य धारा में नहीं आ पाते और कमाई का कोई विशेष साधन न होने की वजह से पिछड़े रह जाते हैं। उत्तरप्रदेश सरकार के इस कदम से इन लोगों को रोजगार की व्यापक संभावनाएं उपलब्ध हो सकेंगी।

कैसे कर पाएंगे इस रोजगार से कमाई

इस योजना के तहत लोगों को पेपर डिस्पोजल बनाने वाली मशीन देने का प्रावधान है। ग्रामीण इलाकों या शहरी इलाकों में भी जब कोई प्रोग्राम होता है तो लोग खाने के लिए दोना और पत्तल का इस्तेमाल करते हैं। ये एक तरह से पेपर डिस्पोजल होता है, जो प्रदूषण को भी कम करता है। यह मशीन आकार में छोटा या बड़ा सकता है। अगर सिंगल डाई का मशीन होती है तो मशीन घर के किसी कोने में आ सकती है। इसे चलाने में बिजली की खपत भी ज्यादा हो सकती है। वहीं अगर मशीन बड़ी और डबल,  ट्रिपल या मल्टी डाई की है तो इसके लिए थोड़ी ज्यादा जगह की जरूरत होती है।

कैसे काम करती है यह मशीन

इस मशीन से दोना और पत्तल बनाने के लिए रॉ मेटेरियल की जरूरत पड़ती है। जो आपको मार्केट में मिल जाएंगे। पेपर प्लेट रॉ मेटेरियल की मदद से आप आसानी से इस मशीन को चलाकर ऑटोमैटिक तरीके से दोना और पत्तल की कटाई कर सकते हैं। ऑटोमेटिक के अलावा हैंड मेड मशीनें भी आती हैं। उन मशीनों में मोटर नहीं लगा होता है। ऑटोमेटिक मशीन में पीछे रोल लगाया जाता है। रोल की मदद से रॉ मेटेरियल पहिया सहित घूमता है और पत्तलों का निर्माण होता है। इस रोजगार से हर महीने अच्छी कमाई की जा सकती है। योगी सरकार लोगों को रोजगार देने के लिए इस मशीन को लोगों को मुफ्त बांट रही है। इसके लिए आवेदन लेने भी शुरू हो गए हैं।

किसे मिलेगा योजना का लाभ

इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक का यूपी का स्थाई निवासी होना चाहिए। योजना के तहत उत्तरप्रदेश के लोगों को लाभ दिया जा रहा है। पात्रता की ज्यादा जानकारी के लिए जिला ग्रामोद्योग अधिकारी से संपर्क कर सकते हैं।

आवश्यक दस्तावेज

मुफ्त पेपर प्लेट मेकिंग मशीन योजना के तहत आवेदन कर इसका लाभ लेने के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों का होना जरूरी है।

  • शैक्षिक योग्यता का प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक
  • बायोडाटा
  • मोबाइल नंबर
  • इमेल आईडी ( यदि हो )

कैसे करें इस योजना में आवेदन

इस योजना में आवेदन करने की आखिरी तारीख 30 जुलाई 2023 है। इसलिए जल्द से जल्द इस आवेदन को किया जाना जरूरी है। इस आवेदन को ऑफलाइन भेजा जा सकता है। आवेदन पत्र और सभी दस्तावेज को अटैच कर, जिला ग्रामोद्योग अधिकारी 8, कैंट रोड, केसरबाग, लखनऊ के पते पर डाक के माध्यम से भेजना है। इस तरह आपका आवेदन स्वीकार कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़े : ऐसा कौन सा जानवर है जो अंडा और दूध दोनों देता है? जाने सरकारी नौकरी में पूछे जाने वाले Important GK

यह भी पढ़े : Cricket के इतिहास में पहली बार हुआ कुछ ऐसा,भारत के नाम दर्ज हो गया सबसे शर्मनाक रिकॉर्ड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *