July 16, 2024

खेत में नमक डालने से होने वाले इस गजब के फायदे

खेत में नमक डालने से होने वाले इस गजब के फायदे,आपने किसानों को अपनी फसलों को कीटों से बचाने और पैदावार बढ़ाने के लिए तरह-तरह की दवाएं और उर्वरक डालते हुए देखा होगा, लेकिन आजकल इलाके के किसान उत्पादन बढ़ाने और फसलों को बीमारियों से बचाने के लिए नमक का इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में फसल बचाना तो दूर, मिट्टी की लवणता दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। लवणता फैलने से मिट्टी भी बंजर हो जाती है।

अगर किसान इसी तरह एक-दो साल में हर फसल में नमक मिलाते रहे तो न केवल फसल उत्पादन पर असर पड़ेगा, बल्कि मिट्टी पर भी इसका प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा। गौरतलब है कि इस क्षेत्र में इन दिनों मूंगफली की फसल बड़े पैमाने पर बोई गई है और फसल खेतों में अच्छी भी हो रही है. एक सप्ताह पहले हुई बारिश के बाद खेतों में खड़ी मूंगफली की फसल में जड़ सड़न की समस्या दिखाई दे रही है।

यह भी पढ़िए: 70kmpl माइलेज और झक्कास फीचर्स के साथ 20 हजार रु में घर लाये Bajaj की चमचमाती बाइक, देखे प्लान डिटेल

इसके कारण प्रकंद सड़ जाता है, काला पड़ जाता है और जमीन के पास सूख जाता है। जागरूकता के अभाव में किसान इस बीमारी से बचने के लिए अपने खेतों में लापरवाही से नमक डालकर अपनी फसलों को बचाने की कोशिश करते हैं, लेकिन नमक डालने से बीमारी रुकने की बजाय असल में मिट्टी को नुकसान पहुंचता है।

…तो जमीन हो जाएगी बंजर!

कृषि अधिकारियों के मुताबिक, अगर किसान लगातार दो-तीन साल तक खेतों में पानी भरेंगे तो जमीन खेती के लायक नहीं रह जायेगी. यदि किसान अपनी फसलों में नमक की जगह जैविक खाद का प्रयोग करें तो पैदावार बढ़ेगी और लागत भी कम होगी। साथ ही जमीन बंजर भी नहीं होगी.

यह भी पढ़िए: Force Gurkha: THAR का भुरका बनाने आयी Force की Gurkha 5 डोर के साथ कर देगी सबको खाख

वो क्या कह रहे थे…

किसान अपनी इच्छानुसार खेतों में नमक डालते हैं। कृषि मंत्रालय किसान संगोष्ठी में नमक छिड़कने से होने वाले नुकसान की भी जानकारी देता है. फिर भी किसान नमक का प्रयोग बंद नहीं करते। नमक के प्रयोग से फसलों को किसी भी प्रकार का लाभ नहीं होता है। इसके विपरीत मिट्टी में लवणता फैलने से उपज में कमी आ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *