किसानों को मालामाल बना देंगी यह फ्रूट की खेती,जानें इसे करने का तरीका

किसानों को मालामाल बना देंगी यह फ्रूट की खेती,

किसानों को मालामाल बना देंगी यह फ्रूट की खेती,

किसानों को मालामाल बना देंगी यह फ्रूट की खेती,जानें इसे करने का तरीका आपकी जानकारी के लिए बता दे की आज के समस्य में किसान भाई पारम्परिक खेती के आलावा व्यवसायिक खेती के और अग्रसर हो रहे है।आज के समय में किसान आम,लीची,मशरूम,भिंडी लौकी, ड्रैगन फ्रूट और स्ट्रॉबेरी सहित कई विदेशी फल और सब्जियों की भी खेती कर रहे हैं.यही वजह है कि खेती अब बिजनेस की तरह हो गई है।आज हम आपको ऐसी खेती के बारे में बताने वाले है जिसकी खेती कर कम समय में लाखो का मालिक बना देंगी।आज हम बात कर रहे है ब्लूबेरी की खेती के बारे में।आएये जानते है इसकी खेती के बारे में विस्तार से।

किसानों को मालामाल बना देंगी यह फ्रूट की खेती,जानें इसे करने का तरीका

grow these are 5 varieties of blueberries with great taste in the home  garden | Urban Farming: गार्डन का आकर्षण बढ़ जायेगा, इस खास तरीके से घर पर  उगायें स्वादिष्ट ब्लूबेरी

ब्लूबेरी की खेती के लिए उचित जलवायु

आपकी जानकारी के लिए बता दे की इसकी खेती आप विभिन्न प्रकार की जलवायु में उगाई जा सकती है लेकिन गर्म जलवायु में इसके पौधे अच्छे से ग्रोथ करते है जब आप ब्लूबेरी की खेती करने के लिए तैयार होते है, तो आप अपने क्षेत्र की जलवायु की परिस्थिति की जांच जरूर करवा लेना चाहिए।

ब्लूबेरी की खेती के लिए उपयुक्त मिट्टी

आपकी जानकारी के लिए बता दे की इसकी खेती के लिए अधिक अम्लीय, वातित, नम,उपजाऊ और अच्छी जल निकासी वाली मिट्टी सबसे सही मानी जाती है इसके आलावा उचित 4.0 से 5.5 पीएच रेंज वाली होनी चाहिए यदि मिट्टी में पीएच मान अधिक है,तो उसमे कुछ मात्रा में सल्फर डालकर मिट्टी के पीएच मान को कम कर सकते है

यह भी पढ़े सबका मार्केट डाउन कर देंगी Hero Electric Maestro धांसू फीचर्स के साथ,देखें कीमत

ब्लूबेरी की खेती के लिए खेत की तैयारी और रोपाई

आपकी जानकारी के लिए बता दे की इसकी खेती करने से पहले भूमि को तैयार करना होता है,इसके लिए खेत की समतल भूमि की जुताई उस समय कर करते है,जब तक मिट्टी अच्छी बुवाई के लिए न तैयार हो जाए क्योकि खेत को खरपतवार मुक्त भी बनाना होता है, तथा लाइन को 3 मीटर वाले गलियारे में पौधों को 80 CM की दूरी पर लगाना चाहिए।

ब्लूबेरी के फसल की सिंचाई कब करे

इसके बाद तैयार किए गए खेत में इसके पौधों की रोपाई करने के बाद तुरंत ही पौधों की सिंचाई करना होता है और इसके पौधों को सप्ताह में एक बार पानी जरूर देना चाहिए बारिश का पानी अन्य पानी से काफी बेहतर होता है,क्योकि इस तरह का पानी ज्यादा क्षारीय होता है अधिक समय तक बारिश न होने और शुष्क मौसम की स्थिति में भूमि में नमी की मात्रा के आधार पर बार-बार सिंचाई करने की जरूरत होती है

ब्लूबेरी की खेती से कितनी होगी कमाई

किसानों को मालामाल बना देंगी यह फ्रूट की खेती,जानें इसे करने का तरीका

grow these are 5 varieties of blueberries with great taste in the home  garden | Urban Farming: गार्डन का आकर्षण बढ़ जायेगा, इस खास तरीके से घर पर  उगायें स्वादिष्ट ब्लूबेरी

आमतौर पर देखा जाये तो हमारे देश में अप्रैल और मई महीने के दौरान इसके पौधों की रोपाई की जाती है। 10 महीने बाद उसके पौधों पर फल आने शुरू हो जाते हैं। इसका मतलब ये है कि आप फरवरी-मार्च से फल तोड़ सकते हैं,जो जून महीने तक जारी रहता है,अगर आप एक एकड़ में ब्लूबेरी के 3000 पौधे लगा सकते हैं.एक पौधे से 2 किलो तक ब्लूबेरी का फल तोड़ा जा सकता है. जबकि आप मार्केट में ब्लूबेरी को 1000 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बेच सकते हैं. इस तरह एक साल में 6000 किलो ब्लूबेरी बेचकर आप 60 लाख रुपये तक की तगड़ी कमाई कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *