July 14, 2024

डिलीवरी के बाद खानी चाहिए ये चीजें,जल्दी होगी रिकवरी हेल्थ में भी दिखेंगा सुधार

डिलीवरी के बाद खानी चाहिए ये चीजें,जल्दी होगी रिकवरी हेल्थ में भी दिखेंगा सुधार प्रग्नेंसी के दौरान महिलाएं अपने और बच्चे के स्वास्थ्य का बहुत ज्यादा ख्याल रखती हैं. हालांकि डिलीवरी के बाद उनका पूरा ध्यान शिशु पर चला जाता है. जिसके कारण वो अपना ठीक से ध्यान नहीं रख पातीं.

यह भी पढ़े मीठा खाने का मन हो तो बनाए कुछ मीठे में स्पेशल गाजर का हलवा,जानें आसान रेसिपी

डिलीवरी के बाद कैसे रखें ध्यान

cover head after delivery, डिलीवरी के बाद नहीं ढका सिर, तो कड़कती ठंड की  चपेट में आ जाए बेबी; क्‍या सच में ऐसा होता है? - is it necessary to cover  head

डिलीवरी के बाद महिलाओं ने अपना काफी ध्यान रखना चाहिए डिलीवरी के बाद महिलाओं में कई तरह की समस्याएं जन्म लेती हैं. ऐसे में अगर वह अपना ख्याल नहीं रखेंगी तो उनकी समस्याएं बदलते दिन के साथ बढ़ती ही चली जाएंगी.जन्म के बाद 6 महीने तक बच्चे को मां का दूध पीना होता है. यह भी एक वजह है कि महिलाओं को डिलीवरी के बाद भी पौष्टिक भोजन करना नहीं छोड़ना चाहिए. क्योंकि शुरुआती महीनों में बच्चे के विकास के लिए मां का दूध ही जरूरी माना जाता है. आज हम आपको कुछ ऐसे सुपरफुड के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें खाने से आप डिलीवरी के बाद हेल्दी महसूस करेंगी.

मोरिंगा खाने के फायदे

अगर आप नई-नई मां बनी हैं तो आपको अपनी डाइट में मोरिंगा को शामिल करना चाहिए. क्योंकि इसमें विटामिन A, B, C के साथ-साथ कैल्शियम, आयरन और प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है. मोरिंगा का सेवन करने से ब्रेस्टमिल्क के प्रोडक्शन में भी सुधार होता है.

मेथी दाना के बेनिफिट्स

जन्म के बाद शारीरिक बदलाव: संपूर्ण विवरण - BabyCenter India

मेथी दाना लगभग हर भारतीय रसोई में अनिवार्य रूप से पाया जाता है. यह कई बीमारियों की छुट्टी करने के लिए जाना जाता है. नई माओं को इसका सेवन जरूर करना चाहिए, क्योंकि ये उन्हें एनर्जी देने का काम करेगा, साथ ही साथ ब्रेस्टमिल्क के प्रोडक्शन को भी बढ़ावा देगा.

जीरा खाने से क्या फायदे होते है

सिजेरियन डिलीवरी के बाद देखभाल - Cesarean Delivery Ke Baad Dekhbhal Kaise  Kare In Hindi

नई माओं के लिए जीरा भी बहुत फायदेमंद किचन इंग्रेडिएंट है. क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट के साथ-साथ आयरन होता है. इसका सेवन करने से डिलीवरी के बाद होने वाली कमजोरी से राहत मिल सकती है और भरपूर एनर्जी भी मिलती है. जीरे से ब्रेस्टमिल्क प्रोडक्शन में भी सुधार हो सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *