Sunday, March 3, 2024
HomeबॉलीवुडBollywood : पति अभिषेक बच्चन की कबड्डी टीम को सपोर्ट करती दिखी...

Bollywood : पति अभिषेक बच्चन की कबड्डी टीम को सपोर्ट करती दिखी ससुर अमिताभ के संग ऎश्वर्या बच्चन

Bollywood : हाल ही में एक मैच के दौरान ऐश्वर्या राय बच्चन, अमिताभ बच्चन और आराध्या बच्चन को अभिषेक बच्चन और उनकी कबड्डी टीम जयपुर पिंक पैंथर्स को चीयर करते देखा गया। शनिवार की रात ऐश्वर्या, अमिताभ और आराध्या ने मुंबई के सरदार वल्लभभाई पटेल इंडोर स्टेडियम में कबड्डी मैच में शामिल हुए।

Bollywood : पति अभिषेक बच्चन की कबड्डी टीम को सपोर्ट करती दिखी ससुर अमिताभ के संग ऎश्वर्या बच्चन

इसे भी पढ़े :- Big Boss Update : शादीसुदा है मुनावर फारुकी अपने बेटे से करते है बहुत प्यार

पूरा बच्चन परिवार अभिषेक के साथ स्टैंड पर बैठे थे और साथी ही सभी ने जयपुर पिंक पैंथर्स की जर्सी पहनी हुई थी। बॉलीवुड एक्ट्रेस ऐश्वर्या राय बच्चन को बेटी आराध्या और ससुर अमिताभ बच्चन के साथ प्रो कबड्डी लीग 2024 के दौरान स्टेडियम में देखा गया। जहां वह अभिषेक बच्चन की कबड्डी टीम को चीयर करती दिखीं और उसकी जीत पर खुशी से उछलते हुए भी नजर आईं। वहीं, बेटी आराध्या की नई हेयरस्टाइल ने सबका ध्यान खींचा। 

Bollywood : पति अभिषेक बच्चन की कबड्डी टीम को सपोर्ट करती दिखी ससुर अमिताभ के संग ऎश्वर्या बच्चन

अभिषेक बच्चन को सपोर्ट करने पहुंचीं ऐश्वर्या राय

अभिषेक बच्चन की कबड्डी टीम को सपोर्ट करने पहुंचे अमिताभ, ऐश्वर्या राय और आराध्या के सोशल मीडिया पर कुछ वीडियो फोटो और वीडियो वायरल हो रहे हैं। वीडियो में बच्चन परिवार के सदस्यों को टीम को चीयर करते देखा गया। जब से मैच शुरू हुआ था तब से ऐश्वर्या, अमिताभ और आराध्या पहले मिनट से ही मैच देखते नजर आए। अमिताभ बच्चन ने अपने बेटे-बहू और पोती के साथ इस मैच का भरपूर मजा लिया।

इसे भी पढ़े :- अंकिता लोखंडे हार का स्वाद चखने के बाद कर रही देर रात पति विक्की जैन और दोस्तों संग जमकर पार्टी

मैच मुंबा यू के 31 अंक और जयपुर पिंक पैंथर्स के 41 अंक के साथ समाप्त हुआ। बता दें कि अभिषेक बच्चन, बंटी वालिया के साथ जयपुर पिंक पैंथर्स के सह-मालिक हैं। टीम ने 2014 में प्रो कबड्डी लीग में खेलना शुरू किया।

राज शमानी के साथ एक पॉडकास्ट में अभिषेक ने टीम में निवेश के बारे में बात की थी और कहा- ‘हमें कुछ भी नहीं पता था, एक टीम कैसे बनानी है, एक टीम को कैसे बनाए रखना है, चलाने की लागत क्या है, कुछ भी नहीं। यह सचमुच अंधेरे में तीर चलाने जैसा था। मुझे विश्वास था कि लोग भी हमें सपोर्ट करेंगे। मुझे लगा कि यह काम कर सकता है’ उन्होंने इस बारे में बात करते हुए बताया कि उन्होंने एक टीम खरीदने का फैसला क्यों किया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments